bharatiya janata party (BJP) logo

President's Press Releases

Accessibility

 

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा जयपुर मीडिया सेंटर, राजस्थान में आयोजित प्रेस वार्ता में दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु

 

मुझे पूर्ण विश्वास है कि भारतीय जनता पार्टी राजस्थान में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रही है। साथ ही, राजस्थान की जनता को पुनः प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया जी के नेतृत्व में डबल इंजन वाली ग्रोथ मिलने जा रही है

*************

कांग्रेस पार्टी ने पूरा चुनाव जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति के आधार पर लड़ा जबकि भारतीय जनता पार्टी ने पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस और प्रदेश के सुनहरे भविष्य के लिए शुरू किये गए कार्यक्रमों के आधार पर लड़ने का प्रयास किया

*************

कांग्रेस पार्टी में न तो डिसिप्लिन है, नेता है, नीति है और न ही कोई सिद्धांत। कांग्रेस ने हर बार की भांति इस बार भी जाति और धर्म के आधार पर समाज को बांटने की राजनीति के आधार पर चुनाव लड़ा

*************

कांग्रेस सत्ता की भूख में इस कदर अंधी हो चुकी है कि उसने देश के प्रधानमंत्री की गरिमा को नीचे गिराने के लिए अत्यंत ही अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया, कांग्रेस के इस दुर्भाग्यपूर्ण रवैये ने जनता को आहत भी किया है और आगाह भी कि यदि गलती से भी कांग्रेस सरकार आई तो वह किस प्रकार की होगी

*************

एक ओर राहुल गाँधी प्रधानमंत्री जी को सलाह देते हैं किभारत माता की जय' बोलें, दूसरी ओर कांग्रेस प्रत्याशी कार्यकर्ताओं परभारत माता की जय' की जगहसोनिया गाँधी की जय' बोलने के लिए मजबूर करते हैं, यही कांग्रेस पार्टी का असली चेहरा है

*************

भले ही राहुल गाँधी के लिएभारत माता की जय' कोई अहमियत न रखता हो लेकिन हमारे लिएभारत माता की जय' ही सब कुछ है। हमारे लिए राष्ट्र ही सर्वप्रथम है औरभारत माता' की आन-बान-शान के लिए हम अपने प्राणों की आहुति देने से भी नहीं हिचकेंगे
*************

कांग्रेस राजस्थान तो क्या, किसी भी प्रदेश में जनता को अपना चेहरा तक नहीं दे पाई, वह अपना नेता तय करने में भी नाकाम रही। हर जिले में एक व्यक्ति खुद को प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री बताते हुए किसी तरह वोट पाने की जुगत में है

*************

राजस्थान में पूरे चुनाव प्रचार अभियान के दौरान भारतीय जनता पार्टी को मोदी सरकार और वसुंधरा सरकार की लोकप्रिय योजनाओं के लगभग 1.70 करोड़ लाभार्थियों का जबर्दस्त समर्थन प्राप्त हुआ। प्रदेश की लाभार्थी जनता ने राजस्थान चुनाव के गणित को बदल दिया

*************

कांग्रेस ने शुरुआत में यह दुष्प्रचार फैलाया कि राजस्थान में एक बार भाजपा तो एक बार कांग्रेस की सरकार बनती है और इस बार भी प्रदेश में यही क्रम जारी रहेगा लेकिन पार्टी कार्यकर्ता कांग्रेस द्वारा फैलाए गए इस भ्रम को राजस्थान के जनमानस से पूरी तरह निकालने में सफल रहे

*************

पूरे चुनाव प्रचार के दौरान हम कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस अध्यक्ष से पूछते रहे कि आप ये तो बताइये कि आपने राजस्थान के विकास के लिए क्या किया लेकिन न तो राहुल गाँधी ने और न ही कांग्रेस के किसी भी नेता ने इस पर कोई जवाब दिया

*************

13वें वित्त आयोग के दौरान कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार ने राजस्थान को विकास के लिए महज 1,09,244 करोड़ रुपये दिए जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में 2,63,580 करोड़ रुपये आवंटित किये जो कांग्रेस की यूपीए सरकार की तुलना में ढाई गुना अधिक है

*************

राजस्थान में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 13 विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया, मैंने भी सभी जिलों में कुल 38 सभाएं की, रोड शो भी किया, साथ ही मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया जी ने भी राजस्थान गौरव यात्रा के बाद 75 जन-सभाएं कीं

*************

पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राजनाथ सिंह जी, श्री नितिन गडकरी जी एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के साथ-साथ पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं ने राजस्थान के चुनाव प्रचार अभियान में भाग लिया। कुल मिला कर राजस्थान में पार्टी ने 222 बड़ी जन-सभाएं कीं और 15 रोड शो भी आयोजित हुए

*************

कांग्रेस के शासन में राजस्थान कोबीमारुप्रदेश के रूप में तब्दील कर दिया गया था जबकि पिछले पांच वर्षों में वसुंधरा जी ने राजस्थान कोविकसित' प्रदेश के रूप में डेवलप किया है। अगले पांच वर्षों में हम राजस्थान कोविकसित' प्रदेश सेसमृद्ध' प्रदेश के रूप में प्रतिस्थापित करेंगे, यह हमारा संकल्प है

*************

 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज बुधवार को जयपुर मीडिया सेंटर, राजस्थान में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित किया और समाज में नफरत एवं जातिवाद का जहर फैला कर जनता को गुमराह करने वाली कांग्रेस पार्टी पर करारा प्रहार किया।

 

श्री शाह ने कहा कि आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की दूसरी जन-सभा के साथ ही, राजस्थान सहित सभी पांच राज्यों के चुनाव प्रचार का सफल अभियान सम्पूर्ण हो जाएगा। उन्होंने कहा कि 2014 के लोक सभा चुनाव में श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद देश में हुए लगभग सभी चुनावों में पार्टी ने काफी अच्छा प्रदर्शन करते हुए यश प्राप्त किया है। महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, असम, हिमाचल, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, त्रिपुरा, मणिपुर, नागालैंड, मेघालय, गुजरात और गोवा - इन सभी राज्यों में जनता ने हमें सेवा का अवसर दिया।

 

राजस्थान चुनाव प्रचार पर विशेष चर्चा करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 13 विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया, मैंने भी सभी जिलों में कुल 38 सभाएं की, रोड शो भी किया, साथ ही मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया जी ने भी राजस्थान गौरव यात्रा के बाद 75 जन-सभाएं कीं। उन्होंने कहा कि पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राजनाथ सिंह जी एवं श्री नितिन गडकरी जी एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के साथ-साथ पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं ने राजस्थान के चुनाव प्रचार अभियान में भाग लिया। इस तरह, कुल मिला कर राजस्थान में पार्टी ने 222 बड़ी जन-सभाएं की और 15 रोड शो भी आयोजित हुए।

 

श्री शाह ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस का चुनाव अभियान कांग्रेस की जीत के दुष्प्रचार के साथ शुरू हुआ और जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति पर ख़त्म हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने शुरुआत में यह दुष्प्रचार फैलाया कि राजस्थान में एक बार भाजपा तो एक बार कांग्रेस की सरकार बनती है और इस बार भी प्रदेश में यही क्रम जारी रहेगा लेकिन पार्टी कार्यकर्ता कांग्रेस द्वारा फैलाए गए इस भ्रम को राजस्थान के जनमानस से पूरी तरह निकालने में सफल रहे।

 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान में पूरे चुनाव प्रचार अभियान के दौरान भारतीय जनता पार्टी को मोदी सरकार और वसुंधरा सरकार की लोकप्रिय योजनाओं के लगभग 1.70 करोड़ लाभार्थियों का जबर्दस्त समर्थन प्राप्त हुआ। प्रदेश की लाभार्थी जनता ने राजस्थान चुनाव के गणित को बदल दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने पूरा चुनाव जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण के आधार पर लड़ा जबकि भारतीय जनता पार्टी ने पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस और प्रदेश के सुनहरे भविष्य के लिए शुरू किये गए कार्यक्रमों के आधार पर लड़ने का प्रयास किया। प्रदेश की जनता ने भी भाजपा की विकास यात्रा को हाथों-हाथ लेते हुए राजस्थान के विकास के लिए अपनी आस्था व्यक्त की जबकि वह कांग्रेस की जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति को पहले ही नकार चुकी है।

 

श्री शाह ने कहा कि पूरे चुनाव प्रचार के दौरान हम कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस अध्यक्ष से पूछते रहे कि आप ये तो बताइये कि आपने राजस्थान के विकास के लिए क्या किया लेकिन न तो राहुल गाँधी ने और न ही कांग्रेस के किसी भी नेता ने इस पर कोई जवाब दिया। उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग के दौरान कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार ने राजस्थान को विकास के लिए महज 1,09,244 करोड़ रुपये दिए जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में 2,63,580 करोड़ रुपये आवंटित किये जो कांग्रेस की यूपीए सरकार की तुलना में ढाई गुना अधिक है। इसके अतिरिक्त केन्द्रीय योजनाओं में राजस्थान को केंद्र की भाजपा सरकार की ओर से लगभग 36,000 करोड़ रुपये की राशि दी गई, साथ ही लगभग 40,000 करोड़ रुपये की लागत वाली पेट्रोलियम रिफ़ाइनरी भी राजस्थान में लगाई जा रही है।        

 

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी की वसुंधरा सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि भामाशाह स्वास्थ्य योजना से 24 लाख लोग लाभान्वित हुए हैं, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना से 32 लाख महिलाओं को गैस कनेक्शन मिले हैं, मुद्रा योजना से राज्य के लगभग 40 लाख लोगों को स्वरोजगार मिला है, लगभग 13 लाख लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर मिला है, लगभग 50 लाख महिलाओं को मोबाइल मिला है, लाखों महिलाओं का टीकाकरण हुआ है, लगभग 11 लाख बालिकाएं राजश्री योजना से लाभान्वित हुई हैं, 80 लाख शौचालयों का निर्माण हुआ है, कॉलेज जाने वाली बेटियों को लैपटॉप और स्कूटी मिली है और राज्य के 40 लाख से अधिक किसान भी राज्य सरकार की योजनाओं से लाभान्वित हुए हैं। लगभग साढ़े तीन लाख से अधिक युवाओं को स्किल डेवलपमेंट के तहत प्रशिक्षित किया गया है।

 

कांग्रेस पर हमला करते हुए श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस राजस्थान तो क्या, किसी भी प्रदेश में जनता को अपना चेहरा तक नहीं दे पाई, वह अपना नेता तय करने में भी नाकाम रही। हर जिले में एक व्यक्ति खुद को प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री बताते हुए किसी तरह वोट पाने की जुगत में है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में न तो डिसिप्लिन है, नेता है, नीति है और न ही कोई सिद्धांत। कांग्रेस ने हर बार की भांति इस बार भी जाति और धर्म के आधार पर समाज को बांटने की राजनीति के आधार पर चुनाव लड़ा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी सत्ता की भूख में इस कदर अंधी हो चुकी है कि उसने देश के प्रधानमंत्री की गरिमा को नीचे गिराने के लिए अत्यंत ही अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया, कांग्रेस के इस दुर्भाग्यपूर्ण रवैये ने जनता को आहत भी किया है और आगाह भी कि यदि गलती से भी कांग्रेस की सरकार आई तो वह किस प्रकार की सरकार होगी।

 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राजस्थान में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रही है और राजस्थान की जनता को पुनः प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया जी के नेतृत्व में डबल इंजन वाली ग्रोथ मिलने जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश का विकास दिन दुगुना, रात चौगुना के दर से आगे बढ़ा है, हम विश्व की सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था के रूप में प्रतिष्ठित हुए हैं, देश की सीमाएं सुरक्षित हुई हैं, भ्रष्टाचार ख़त्म हुआ है, राजनीतिक शुचिता की प्रतिस्थापना हुई है और जन-सामान्य के जीवन-स्तर को ऊँचा उठाने के लिए कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में राजस्थान कोबीमारुप्रदेश के रूप में तब्दील कर दिया गया था जबकि पिछले पांच वर्षों में वसुंधरा जी ने राजस्थान कोविकसित' प्रदेश के रूप में डेवलप किया है। अगले पांच वर्षों में हम राजस्थान कोविकसित' प्रदेश सेसमृद्ध' प्रदेश के रूप में प्रतिस्थापित करेंगे, यह हमारा संकल्प है। उन्होंने प्रेस वार्ता में उपस्थित मीडिया बंधुओं से भी अनुरोध करते हुए कहा कि राजस्थान को समृद्धि के शिखर तक पहुंचाने में आपका सहयोग अपेक्षित है, यह राजस्थान के सुनहरे भविष्य को सुनिश्चित करेगा।

 

प्रत्रकारों द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में श्री शाह ने कहा कि एक ओर राहुल गाँधी प्रधानमंत्री जी को सलाह देते हैं किभारत माता की जय' बोलें, दूसरी ओर कांग्रेस प्रत्याशी कार्यकर्ताओं परभारत माता की जय' की जगहसोनिया गाँधी की जय' बोलने के लिए मजबूर करते हैं, यही कांग्रेस पार्टी का असली चेहरा है। उन्होंने कहा कि भले ही राहुल गाँधी के लिएभारत माता की जय' कोई अहमियत न रखते हों लेकिन हमारे लिएभारत माता की जय' ही सब कुछ है। जन संघ की स्थापना से लेकर आज तक हमारे सभी वक्तव्यों की शुरुआत ‘भारत माता की जय' से ही होती है। उन्होंने कहा कि हमारे लिए राष्ट्र ही सर्वप्रथम है औरभारत माता' की आन-बान-शान के लिए हम अपने प्राणों की आहुति देने से भी नहीं हिचकेंगे।

 

(महेंद्र पांडेय)

कार्यालय सचिव

Tag: 38 | 11

Share your views. Post your comments below.

Sign Out


Security code
Refresh

Subscribe BJP Newsletter